इंडिया टीवी न्यूज़ सच तककोरबा

जघन्य हत्या के आरोपी को 24 घण्टे के भीतर किया गया गिरफ्तार,आरोपी को गिरफ्तार कर भेजा गया न्यायिक रिमाण्ड पर

कोरबा/हरदी बाजार:- दिनांक 11.11.2022 को सूचक हेमंत सिंह जगत पिता धरम सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी उतरदा रोड हरदीबाजार चौकी हरदीबाजार, थाना कुसमुण्डा, जिला कोरबा चौकी उपस्थित आकर इस आशय का मर्ग इंटीमेशन चाक कराया कि इसके पिता धरम सिंह सिदार व मॉ रजनी सिदार दोनों उतरदा रोड हरदीबाजार में यदुनाथ सिंह के किराये मकान में रहते हैं,जिसके मकान मालिक यदुनाथ सिंह राठौर द्वारा रात्रि करीबन 20:00 बजे सूचक को फोन कर बताया गया कि तुम्हारी मॉ आज दोपहर से घर से बाहर नही निकली है तथा तुम्हारे पिता धरम सिंह घर से भाग गये है,तब सूचक ग्राम सिरकी से अपने मामा जोगेन्द्र सिंह नेताम के साथ हरदीबाजार वाले घर पर आकर देखा कि घर का दरवाजा खुला हुआ है, अंदर बेडरूम में जाकर देखने पर प्रार्थी की मॉ रजनी के उपर कंबल ढका हुआ था जिसे हटाकर देखने पर प्रार्थी की मॉ का शव बिस्तर पर पड़ा हुआ है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 613/2022 धारा 302 भादवि. व मर्ग क्रमांक 145/2022 धारा 174 जा.फौ कायम कर हालात से पुलिस अधीक्षक कोरबा संतोष सिंह (भा.पु.से.), अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कोरबा अभिषेक वर्मा (रा.पु.से.), नगर पुलिस अधीक्षक दर्री रोबिनसन गुड़िया (भा.पु.से.) को अवगत कराकर मार्गदर्शन प्राप्त करने पर मार्गदर्शन प्रदान करते हुए आरोपी की त्वरित गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया तब आरोपी धरम सिंह के संबंध में पतासाजी करने पर जानकारी प्राप्त हुई कि कल घटना को अंजाम देने के बाद से दीपका के पास लुकछिप रहा है तब मुखबीर द्वारा बताए स्थान से घेराबंदी कर हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर बताया कि उसकी पत्नि उसके वेतन के लगभग पूरे पैसे को अपने मायके में खर्च कर देती है जिसे लेकर आये दिन आरोपी व मृतिका के मध्य विवाद होता रहता है। कल दिनांक 11.11.2022 को भी आरोपी द्वारा खर्च के लिए पैसे मांगने पर पत्नि द्वारा पैसे नही देने पर आरोपी द्वारा अपनी पत्नि के सिर को दिवाल में मरते दम तक ठोक ठोक कर हत्या करना और गला दबा कर मारना स्वीकार किया जिससे आरोपी का कृत्य धारा सदर का अपराध घटित करना सबूत पाए जाने से आरोपी को आज दिनांक 12.11.2022 के 16ः00 बजे विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के आदेशानुसार न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

उपरोक्त कार्यवाही में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में उप निरीक्षक मयंक मिश्रा चौकी प्रभारी हरदीबाजार, सउनि. विजय सिंह, प्रधान आरक्षक ओमप्रकाश बैस, आरक्षक प्रवीण राजवाड़े, आरक्षक कमल कैवर्त, आरक्षक संजय चंद्रा, आरक्षक मुकेश यादव, आरक्षक गौतम पटेल, आरक्षक गौकरण श्याम की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

कमलेश साहू की रिपोर्ट